संभोग से समाधि की ओर—24 (ओशो)

युवक और यौन— एक कहानी से मैं अपनी बात शुरू करना चाहूंगा। एक बहुत अद्भुत व्‍यक्‍ति हुआ है। उस व्‍यक्‍ति का नाम था नसीरुद्दीन एक दिन सांझ वह अपने घर से बाहर निकलता था मित्रों से मिलने के लिए। तभी द्वार पर एक बचपन का बिछुड़ा मित्र घोड़े से उतरा। बीस बरस बाद वह मित्र … Read more संभोग से समाधि की ओर—24 (ओशो)

x